गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

यूपी में 11 बजे तक 24.31 फीसदी मतदान

लखनऊ : लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में उत्तर प्रदेश में नौ जिलों की आठ लोकसभा सीटों के लिये सुबह 11 बजे तक 24.31 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया था। शुक्रवार को कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच मतदान सुबह सात बजे शुरु हो गया था। निर्वाचन आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार सुबह 11 बजे तक अमरोहा में 28.45 प्रतिशत,मेरठ में 25.67 प्रतिशत,बागपत में 22.74 प्रतिशत,गाजियाबाद में 23.19 प्रतिशत, गौतमबुद्धनगर में 24.26 प्रतिशत,बुलंदशहर में 23.43 प्रतिशत,अलीगढ़ में 24.42 प्रतिशत और मथुरा में 23.07 प्रतिशत लोगों ने वोट डाल लिये थे। मतदान को लेकर सभी स्थानो पर खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। मतदान शांतिपूर्ण तरीके से जारी है और कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।
मतदान शाम छह बजे तक चलेगा जबकि मतगणना का काम चार जून को होगा। चुनाव के इस चरण में फिल्म अभिनेत्री और भाजपा सांसद हेमामालिनी और अरुण गोविल समेत 91 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। भाजपा सांसद तेजवीर सिंह ने मथुरा में अपने मताधिकार का प्रयोग किया जबकि गाजियाबाद में भाजपा प्रत्याशी अतुल गर्ग ने कतार में लग कर अपना वोट डाला। मतदान से पहले श्री गर्ग प्रसिद्ध दूधेश्वर नाथ मंदिर पहुंचे और पूजा अर्चना कर अपनी जीत की कामना की। गाजियाबाद में पुलिस आयुक्त अजय कुमार मिश्रा ने भी सुबह साढे सात बजे वोट डाला और मतदाताओं से अधिकाधिक मतदान की अपील की।
मथुरा के चार गांवों में मतदान के बहिष्कार की सूचना मिली थी जिसे अधिकारियों की त्वरित कार्रवाई के बाद सुचारु कर लिया गया।
इस बीच श्री रिणवा ने बताया कि द्वितीय चरण में 81 पुरुष तथा 10 महिला प्रत्याशी चुनाव मैदान में है जिनके भाग्य का फैसला एक करोड़ 67 लाख 77 हजार 198 मतदाता करेंगे, जिसमें 90 लाख 26 हजार 51 पुरुष और 77 लाख 50 हजार 356 महिला मतदाताओं के अलावा 791 थर्ड जेण्डर शामिल हैं। स्वतंत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण मतदान के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। दूसरे चरण मे सबसे अधिक मतदाता 29 लाख 45 हजार 487 गाजियाबाद में है जबकि सबसे कम 16 लाख 53 हजार 146 मतदाता बागपत में हैं।
मथुरा और गौतमबुद्धनगर में सबसे ज्यादा 15-15 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है जबकि बुलंदशहर में सबसे कम छह उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला किया जायेगा। इस चुनाव में कुल एक लाख 77 हजार चार मतदेय स्थल तथा सात हजार 797 मतदान केंद्र बनाये गये हैं जिनमें तीन हजार 472 संवेदनशील हैं।
मतदान पर नजर रखने के लिये तीन विशेष प्रेक्षक,आठ सामान्य प्रेक्षक, पांच पुलिस प्रेक्षक तथा 12 व्यय प्रेक्षकों की तैनाती की गयी है। इसके अलावा 1451 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 190 जोनल मजिस्ट्रेट,222 स्ट्रैटिक मजिस्ट्रेट तथा 1599 माइक्रो ऑब्जर्वर तैनात किये गये हैं।
चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न् कराने के लिये पर्याप्त मात्रा में अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गयी है। स्ट्रांग रुम की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी अर्धसैनिक बलों को दी गयी है। इमरजेंसी की स्थिति में मेडिकल सहायतार्थ एयर एबुंलेंस और हेलीकाप्टर की व्यवस्था की गयी है।
दूसरे चरण में अमरोहा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कंवर सिंह तंवर, काँग्रेस के कुँवर दानिश अली और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से मुजाहिद हुसैन के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है जबकि मेरठ में अस्सी के दशक के लोकप्रिय धारावाहिक ‘रामायण’ में भगवान राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल भाजपा के टिकट पर चुनाव मैदान में है जिनका मुकाबला बसपा के देवव्रत कुमार त्यागी और सपा की सुनीता वर्मा से है।
भाजपा की सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के लिये प्रतिष्ठा का सवाल बनी बागपत सीट पर पार्टी प्रत्याशी डा राजकुमान सांगवान की टक्कर सपा के अमरपाल और बसपा के प्रवीण बंसल से है वहीं गाजियाबाद में भाजपा के अतुल गर्ग का मुकाबला काँग्रेस की डोली शर्मा से तय माना जा रहा है हालांकि बसपा के नंद किशोर पुंडीर दोनो उम्मीदवाराें की जीत हार में अहम भूमिका निभाने को तैयार हैं। गौतमबुद्धनगर के मौजूदा सांसद और भाजपा प्रत्याशी डा महेश शर्मा सपा के डॉ महेन्द्र सिंह नागर और बसपा के राजेन्द्र सिंह सोलंकी से टकरा रहे हैं। बुलन्दशहर (सु) बसपा के गिरीश चन्द्र, भाजपा के डॉ भोला सिंह और कांग्रेस के शिवराम के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है।
अलीगढ़ निर्वाचन क्षेत्र के लिए कुल 14 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं लेकिन मुख्य मुकाबला भाजपा के सतीश गौतम,सपा के बिजेन्द्र सिंह और बसपा के हितेन्द्र कुमार उर्फ बंटी उपाध्याय के बीच है वहीं मथुरा में काँग्रेस के मुकेश धनगर भाजपा की मौजूदा सांसद हेमा मालिनी से लोहा लेने को तैयार हैं।
निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान के समय ऐसे मतदाता जिनके पास अपना मतदाता फोटो पहचान पत्र न हो, वे 12 अन्य वैकल्पिक फोटो पहचान पत्रों में से किसी एक को प्रस्तुत कर मतदान कर सकते हैं।
मतदान के दौरान मतदाता पहचान पत्र के अलावा 12 अन्य वैकल्पिक पहचान पत्रों में आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, बैंको/डाकघरों द्वारा जारी किए गए फोटोयुक्त पासबुक, श्रम मंत्रालय की योजना के अन्तर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, ड्राइविंग लाइसेन्स, पैन कार्ड, एनपीआर के अन्तर्गत आरजीआई द्वारा जारी किये गये स्मार्ट कार्ड, भारतीय पासपोर्ट, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, केन्द्र/राज्य सरकार/लोक उपक्रम/पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए गए फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, सांसदों/विधायकों/विधान परिषद सदस्यों को जारी किये गये सरकारी पहचान पत्र और यूनिक डिसएबिलिटी आईडी (यूडीआईडी) सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा निर्गत कार्ड मतदेय स्थलों (पोलिंग बूथ) पर मतदाताओं की पहचान के लिए अनुमन्य होंगे।

Leave a Reply