गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

कोयले का उत्पादन एक अरब टन होने का अनुमान

नई दिल्ली : सरकार ने बुधवार को लोकसभा में कहा कि देश में कोयले का उत्पादन करीब एक अरब टन होने की संभावना है और आने वाले समय में कोयले का आयात बंद किया जाएगा। केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न का जवाब देते हुए कहा कि पहले देश में 54 करोड़ टन से लेकर 56.50 करोड़ टन तक कोयले का उत्पादन होता था, लेकिन इस बार यह आंकड़ा एक अरब टन का होने वाला है। उन्होंने कहा कि भारत कोयला उत्पादन के मामले में न केवल आत्मनिर्भर बनेगा बल्कि आने वाले समय में इसका आयात बंद कर दिया जाएगा।
जोशी ने एक अन्य पूरक प्रश्न के जवाब में कहा कि देश में वाणिज्यिक कोयला खनन शुरू हो गया है और इस साल ऐसी खदानों से डेढ़ करोड़ टन कोयला उत्पादन होगा। उन्होंने कहा कि देश में वाणिज्यिक कोयला खनन के लिए 91 ब्लॉक की नीलामी की गयी थी और उनमें वाणिज्यिक खनन शुरू हो गया है।

इस बार वाणिज्यिक खनन के माध्यम से डेढ़ करोड़ टन कोयला उत्पादन होगा। पहली बार हमने वाणिज्यिक खनन में उत्पादन शुरू किया है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पहले कोयला ब्लॉक आवंटन और उत्पादित कोयले के आवंटन में गड़बड़ी होती थी लेकिन अब मौजूदा सरकार में इस दिशा में पारदर्शिता आई है। देश में कोयला उत्पादन बढ़ा है।

Leave a Reply