गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

दिलीप घोष, श्रीनेत को आयोग का नोटिस

नई दिल्ली : चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व अध्यक्ष एवं सांसद दिलीप घोष और कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत को क्रमश: मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और अभिनेत्री तथा मंडी निर्वाचन क्षेत्र (हिमाचल प्रदेश) से भाजपा की प्रत्याशी कंगना रणौत के विरुद्ध उनकी विवादास्पद टिप्पणियों के लिये कारण बताओ नोटिस भेजे हैं।
इन दोनों नेताओं की हाल की टिप्पणियों के खिलाफ आयोग को शिकायतें मिली हैं और उन पर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोप है। आयोग ने श्री घोष और सुश्री श्रीनेत को 29 मार्च शाम पांच बजे तक नोटिस का जवाब देने का समय दिया है। सुश्री बनर्जी के खिलाफ भाजपा नेता श्री घोष द्वारा की गयी कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणी को लेकर तृणमूल कांग्रेस ने 26 मार्च को आयोग में शिकायत दर्ज करायी।
शिकायत में श्री घोष की उस टिप्पणी का उल्लेख किया गया है, जिसमें उन्होंने कथित रूप से कहा था, “ जब दीदी गोवा जाती है तो वह गोवा की बेटी बन जाती हैं, त्रिपुरा में वह कहती हैं कि मैं त्रिपुरा की बेटी हूं, तय करें कि आपका पिता कौन है, यह सही नहीं है। ”
कांग्रेस की नेता श्रीनेत ने भाजपा उम्मीदवार रणौत के संबंध में एक सोशल मीडिया पर रणौत की फोटो के साथ पोस्ट की गयी एक अभद्र पोस्ट के संबंध में नोटिस दिया है। यह नोटिस भाजपा की शिकायत पर दी गयी है। आयोग ने इसे प्रथम दृष्टया चुनावों के संबंध में आदर्श संहिता और आयोग द्वारा राजनीतिक दलों को टिप्पणियों में शालीनता बरतने के संबंध में पहली मार्च को जारी अपने परामर्श के विरुद्ध देखा है। श्रीनेत कांग्रेस की सोशल मीडिया समिति की प्रमुख हैं।

Leave a Reply