गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

भाजपा के शासन में लोकतंत्र खतरे में

बेंगलुरु : सिद्दारमैया ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के शासन में देश का लोकतंत्र और संवैधानिक अखंडता खतरे में है। इनके शासनकाल में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) सहित तमाम स्वायत्त संस्थाएं भी भाजपा के इशारे में कार्य करती प्रतीत होती हैं।
सिद्दारमैया ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट में लिखा, “पिछले एक दशक में विपक्षी नेताओं पर ईडी का निशाना कड़वी हकीकत के रूप में सामने आई है कि सीबीआई, आईटी और ईडी अब स्वायत्त संस्थाएं नहीं रही हैं, बल्कि ये देश में भाजपा के पर काम करती नजर आ रही है।”
मुख्यमंत्री ने कहा, “विपक्ष की लड़ाई मतपत्रों से दूर सरकारी तंत्र के दुरुपयोग तक पहुंच चुकी है। हमारे लोकतंत्र और संवैधानिक अखंडता का सार भाजपा के शासन में दांव पर है।” सिद्दारमैया की यह टिप्पणियां झारखंड के मुख्यमंत्री पद से हेमंत सोरेन के इस्तीफा देने के बाद कथित भूमि धोखाधड़ी से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी द्वारा बुधवार को उनके खिलाफ की गई कार्रवाई की पृष्ठभूमि में की गईं।

Leave a Reply