गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

गोरखपुर : पुलिस हिरासत में युवक की मौत

तीन पुलिसकर्मियों पर मुकदमा

गोरखपुर : उत्तर प्रदेश में गोरखपुर जिले के गोला क्षेत्र में पुलिस हिरासत में एक युवक की मौत पर थानाध्यक्ष समेत तीन पुलिस कर्मियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस सूत्रों ने गुरूवार को बताया कि ग्राम बाढा बुजुर्ग गांव निवासी विनय कुमार पान्डेय (37) काे सात साल की बच्ची से छेड़खानी के आरोप में पुलिस पूछताछ के लिए लेकर थाने लेकर गयी थी जहां तबीयत खराब होने पर तत्काल उसे अस्पताल पहुंचाया गया मगर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मामले की जांच गोला के क्षेत्राधिकारी को सौपी गई है। जांच रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
गोला प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के अधीक्षक डॉ. एएन ठाकुर ने बताया कि अस्पताल आने से पहले ही शिक्षक की मौत हो गई थी। मौत का स्पष्ट कारण नहीं बताया जा सकता है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से ही इसका पता चल पाएगा कि मौत किस वजह से हुई।
पुलिस ने गोला के थानाध्यक्ष सहित तीन पुलिसकर्मियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच कर रही है।
घटना के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया। लोगों ने बुधवार रात गोला के चंद चौराहे पर शव रखकर सड़क जाम कर दिया। देर रात करीब ढाई बजे आईजी और एसपी समेत तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे। काफी देर समझाने के बाद आज सुबह चार बजे के आसपास जाम खुलवाया।
गोला के बाढ़ा बुजुर्ग के रहने वाले चंद्रप्रकाश पांडेय और कृष्ण कुमार पांडेय राजीव गांधी इंटर कॉलेज के प्रबंधक हैं। गांव के ही एक परिवार से इनका विवाद चलता है। प्रबंधक के भाई विनय कुमार पांडेय पर उसी परिवार की एक बच्ची ने छेड़खानी का आरोप लगाया। लड़की के परिजनों ने शाम 5 बजे डायल.112 पर सूचना दी। पुलिस आरोपी को पूछताछ के लिए लेकर थाने पर आई।
प्रबंधक का कहना है कि जब पुलिस आई उस समय विनय अपने ब्लड प्रेशर की दवा लेने माल्हनपार चौराहे पर गया था। वापस आने पर पुलिस उसे अपने वाहन में बैठाकर थाने ले जाने लगी। केशवापार चौराहे पर उसे उल्टी होने लगी तो डॉक्टर को दिखाने के लिए कहा मगर वे लोग नहीं माने और थाने लाकर उसे अंदर बैठा दिया।
मृतक के भाई ने बताया कि थाने में पुलिस पूछताछ कर ही रही थी कि इस दौरान विनय की तबीयत और बिगड़ गई। वहां मौजूद भाई ने थानेदार को इसकी जानकारी दी। भाई के मुताबिक पुलिस उसे लेकर अस्पताल गई। जब उनके साथ हम लोग विनय को अस्पताल लेकर पहुंचे तो पता चला कि उसकी मौत हो गई है।
घटना के बारे में प्रबंधक ने बताया कि छेड़खानी का आरोप लगाने वाली लड़की के परिवार से उनका पुराना विवाद चल रहा है। उन्होंने मेरे भाई पर गलत आरोप लगाए हैं।

Leave a Reply