गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

गुजरात को मानवाधिकार का नोटिस

नई दिल्ली : मानवाधिकार आयोग ने सूरत में एक रसायन उत्पादन फैक्ट्री में विस्फोट से सात श्रमिकों की मौत और अन्य कई के घायल होने के मामले में गुजरात सरकार को नोटिस भेजा है। आयोग की एक विज्ञप्ति के अनुसार इस मामले में राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक से चार सप्ताह के भीतर मामले में विस्तृत रिपोर्ट मांगी गयी है।
विज्ञप्ति के अनुसार, आयोग ने इस मामले में मीडिया की खबरों के आधार पर कदम उठाते हुए 30 नवंबर को यह नोटिस जारी किया। आयोग ने खबरों पर स्वतः संज्ञान लेते हुए कहा है कि ज्वलनशील रसायनों से भरे टैंक में कथित विस्फोट, प्रथम दृष्टया, फैक्ट्री प्रबंधन की ओर से सरासर लापरवाही काे दर्शाता है, जिसकी जांच की आवश्यकता है क्योंकि यह पीड़ित श्रमिकों के मानवधिकारों का उल्लंघन का मामला दिखता है।
मानवाधिकार आयोग ने राज्य के अधिकारियों से इस मामले में दर्ज एफआईआर, पीड़ितों के चिकित्सा उपचार, मृत व्यक्तियों और घायलों के परिजनों को दिये गये मुआवजा आदि का ब्यौरा मांगा है। आयोग ने यह भी पूछा है कि इस त्रासदी के लिए जिम्मेदार व्यक्तियों के खिलाफ की गई क्या कार्रवाई की जा रही है?

Leave a Reply