गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

प्रेमी युगल की हत्या का पर्दाफाश, एक गिरफ्तार

इटावा : उत्तर प्रदेश में इटावा जिले के भरथना क्षेत्र में प्रेमी युगल की हत्या की वारदात का 586 दिन बाद खुलासा करते हुए पुलिस ने आरोपी पूर्व प्रेमी को गिरफ्तार करने का दावा किया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने बुधवार को बताया कि 28 अप्रैल 2022 को ऊमरसेंडा-तुरैया नहर पटरी पर ग्राम रपटपुरा के समीप खजूर के पेड़ के नीचे प्रेमी युगल के शव मिले थे जिनकी शिनाख्त पूनम यादव और अरुण राठौर के तौर पर की गयी थी।

दोनो के सिर पर गोली लगी थी जिससे पुलिस इसको आत्महत्या का मामला मान रही थी। इसी दौरान सुमित नामक शख्स भी गोली लगने से घायल हो गया था। सुमित ने पुलिस को बताया था कि नहर पटरी से जब वह गुजर रहा था तो बदमाशों ने एकाएक फायरिंग शुरू कर दी जिसमें वह घायल हो गया और उसके बाद उसको इस बात की जानकारी नहीं है कि और कितने लोग इस घटनाक्रम में प्रभावित हुए हैं।
पुलिस ने घटना की जांच शुरु की। इस बीच फॉरेंसिक जांच के दौरान सुमित की भूमिका संदिग्ध पायी गयी। पुलिस ने उससे सख्ती की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। दरअसल पूनम और सुमित के बीच रिश्ते थे लेकिन घटना के आठ दिन पहले सुमित की शादी होने पर पूनम ने सुमित के बजाय अरुण से अपनी नजदीकी शुरू कर दी, यह बात सुमित को रास नहीं आई और उसने दोनो की गोली मार कर हत्या कर दी।
सुमित ने पुलिस को बताया कि वह पूनम से शादी करना चाहता था क्योकि पूनम के कोई भाई नहीं था जिसके चलते उसे यह उम्मीद थी कि उसके विवाह के बाद उसको घर से मिलने वाली जायदाद उसकी हो जाती।

Leave a Reply