गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

यूपी बोर्ड परीक्षा की तैयारी पूरी, 55 लाख देंगे परीक्षा

प्रयागराज : उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की परीक्षाएं गुरुवार से दो पालियों मेें शुरू हो रही हैं। अधिकृत सूत्रों ने बताया कि परीक्षा में 55 लाख से अधिक परीक्षार्थी हिस्सा लेंगे। हाईस्कूल एवं इंटर में हिंदी विषय की परीक्षा होनी है। सभी को प्रवेश पत्र वितरित हो चुका है। तीन लाख से अधिक कक्ष निरीक्षकों की तैनाती हो चुकी है। सभी को क्यूआर कोड वाले आईकार्ड दिए गए हैं। सभी ने परीक्षा केंद्रों पर अपनी उपस्थिति बुधवार को दर्ज करा दी है। उत्तरपुस्तिका को भी क्यूआर कोर्ड के दायरे में लाया गया है।
परीक्षा में नकल रोकने के लिए एसटीएफ, लोकल खुफिया विभाग एवं पुलिस भी सक्रिय हो गई है। परीक्षा केंद्रों पर प्रश्नपत्र का पैकेट खोलने के लिए त्रिस्तरीय टीम गठित की गई है। इसमें केंद्र व्यस्थापक, बाह्य केंद्र व्यवस्थापक एवं स्टैटिक मजिस्ट्रेट शामिल किए गए हैं। सोशल मीडिया पर निगरानी रखने के लिए क्यूआरटी यानि तत्काल कार्रवाई टीम गठित की गई है। जो 24X7 सक्रिय रहेगी। परीक्षा केंद्रों एवं स्ट्रांग रूमों की निगरीनी को बोर्ड मुख्यालय समेत सभी क्षेत्रीय कार्यालयों में बना कंमाड रूम भी सक्रिय हो गया है। प्रदेश के सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को रात्रि में परीक्षा केंद्रों के निरीक्षण का निर्देश दिया गया है।
बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ला ने बुधवार को प्रदेश के सभी जिलाविद्यालय निरीक्षकों गूगल मीटिंग करके परीक्षा संबंधी दिशा निर्देश दिए। गुरुवार को प्रथम पाली में हाईस्कूल हिंदी एवं प्रारंभिक हिंदी की परीक्षा 8273 केंद्रों में होगी। इंटर में सैन्य विज्ञान की परीक्षा 244 केंद्रों आयोजित होगी। हाईस्कूल में 29,38,663 तथा इंटर में 5,123 परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे। द्वितीय पाली में इंटर हिंदी एवं सामान्य हिंदी की परीक्षा 8,232 केंद्राें पर होगी। हाईस्कूल में वाणिज्य की परीक्षा 1619 सेंटरों पर होगी। इंटर में 24,29,278 तथा हाईस्कूल में 38,437 परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे।
बोर्ड ने प्रश्नपत्र का पैकेट खोलने के लिए नई व्यवस्था बनाई है। इसके तहत केंद्र व्यवस्थापक के साथ बाह्य केंद्र व्यवस्थापक एवं स्टैटिक मजिस्ट्रेट की संयुक्त जवाबदेही तय की गई है। रांग ओपनिंग होने पर तीनों के खिलाफ कार्रवाई होगी। सोशाल मीडिया को इस बार निशाने पर लिया गया है। बोर्ड ने 24X7 का मानक बनाते हुए एक क्युक रिसांप टीम गठित की है। जो वाह्टसेप, फेस बुक, टिवटर एक्स आदि पर लगातार निगाह रखेगा।
शुक्ला ने बताया कि प्रदेश भर में नकल रोकने को 1297 सेक्टर मजिस्ट्रेट्र 430 जोनल मजिस्ट्रेट्र 75 राज्य स्तरीय पर्यवेक्षक तथा 416 सचल दस्ते का गठन किया गया है। साथ एसटीएफ, एलआइयू एवं पुलिस भी सक्रिय रहेगी। उन्होंने बताया कि परीक्षा को शासन की मंशा के अनुरूप नकल विहीन कराने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है।

Leave a Reply