गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

विंध्याचल मेले की तैयारी चरम पर

मिर्जापुर : उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में श्रद्धालु इस बार विंध्य कोरिडोर निर्माण के बाद पहली बार भव्यता के बीच मां विंध्यवासिनी देवी की अभ्यर्थना करेंगे। विंध्याचल नवरात्रि मेले की तैयारियां एक माह पहले शुरू कर दी जाती है। जिला प्रशासन, एवं अन्य संबंधित विभाग के साथ नगर पालिका परिषद के लोग जुट जाते हैं मगर अंतिम समय दिन रात काम शुरू हो जाता है।
विंध्याचल में तैयारियों का अद्भुत दृश्य है। चौदह वर्ग किलोमीटर मेला क्षेत्र में तैयारियों का मंजर है । एक हजार सफाई कर्मचारी साफ सफाई में जुटे हैं। विद्युत विभाग जल निगम आदि विभागों के कर्मचारियों की पूरी फौज जुटी है।तो दूसरी ओर अस्थाई दुकानें अपने अपने पूर्व निर्धारित स्थानों पर लगनी शुरू है। स्वयं सेवी संस्थाएं अपनी अपनी पंडाल को भव्य रूप देने में जुटे हैं।स्थायी दुकानदार अपनी अपनी दुकानो को रंग रोगन कर सजा रहे हैं। इस बार भारी भीड़ से अच्छी आय होने की आशा से उत्साहित भी है ।
मंदिर परिसर ‌में देवी के मंदिर को रंग-रोगन कर सजाया जा रहा है। विदेशी फूलो से पूरे को एक दम अलग लुक भी दिया जाएगा।जिला प्रशासन अधिकारियों के साथ कैंम्प कार्यालय में प्रतिदिन तैयारियों की समीक्षा कर रहा है।
जिलाधिकारी प्रिंयका निरंजन रोज स्थलीय निरीक्षण कर आदेश निर्देश जारी करती है। चुनावों के माहौल में नवरात्रि मेला प्रशासन के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। नव्य भव्य मंदिर के निर्माण के बाद अन्य नवरात्रि से इस बार भारी भीड़ इकट्ठी होने की पूरी संभावना है। लिहाजा दर्शनार्थियों को मौलिक सुविधा उपलब्ध कराना एवं सुरक्षा व्यवस्था एक बड़ी चुनौती होगी।
मेला प्रभारी एवं अपर जिलाधिकारी शिवप्रताप शुक्ल ने बताया कि मां विंध्यवासिनी धाम के साथ त्रिकोण पथ पर स्थित मां अष्टभुजा एवं मां काली मंदिर परिसर एवं रास्ते आदि पर भी काम चल रहा है। पेयजल आपूर्ति,अस्थाई शौचालय, गंगा घाटों पर काम चल रहा है। सड़को की मरम्मत कार्य भी जारी है।हर हाल में नवरात्रि मेला शुरू होने से पहले सारी तैयारियां पूरी कर ली जाएगी।

Leave a Reply