गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

सुक्खू ने भाजपा पर बोला जोरदार हमला

शिमला : ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने शिमला संसदीय क्षेत्र के लिए अपने चुनाव अभियान की शुरुआत शिमला जिला के दूर-दराज क्षेत्र डोडरा-क्वार से की। भारतीय जनता पार्टी पर ज़ोरदार हमला करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने धन बल से सत्ता को हथियाने का प्रयास किया लेकिन उनके इरादे कामयाब नहीं हो सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता सत्ता हथियाने की कोशिश करने की सजा भाजपा को ज़रूर देगी और प्रदेश की चारों लोकसभा सीटें कांग्रेस पार्टी के खाते में डालेगी।
श्री सुक्खू ने कहा कि भाजपा ने धनबल का इस्तेमाल कर कांग्रेस पार्टी के छह विधायकों को अपने साथ मिलाया और राज्यसभा चुनाव के लिए कांग्रेस प्रत्याशी के ख़िलाफ़ क्रॉस वोट किया। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पैसे के दम पर प्रदेश सरकार को गिराने की कोशिश भी की। उन्होंने कहा कि बिकाऊ नेता कभी भी जनसेवक नहीं हो सकते हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नेता विपक्ष जयराम ठाकुर ने धनबल के अहंकार में यहां तक कहा कि भगवान भी इस सरकार को नहीं बचा सकते हैं लेकिन देवी-देवताओं के आशीर्वाद से वर्तमान राज्य सरकार ने बजट पास करवाया। उन्होंने कहा कि बजट में आम आदमी के कल्याण से जुड़ी योजनाएं थी, जिनमें मनरेगा के दिहाड़ी को बढ़ाकर तीन सौ रुपए का प्रावधान किया गया है तथा दूध खरीद पर मूल्य न्यूनतम समर्थन मूल्य देने वाला हिमाचल प्रदेश देश का पहला राज्य बना है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार गाय का दूध 45 रुपए और भैंस का दूध 55 रुपये प्रति लीटर के रेट पर ख़रीदेगी। इसके अतिरिक्त प्राकृतिक खेती से उत्पादित गेहूं को 40 रुपया और मक्की को तीस रुपया प्रति किलो की दर से ख़रीदा जाएगा।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार के दरवाज़ों को बंद किया, जिसके कारण राज्य सरकार के ख़ज़ाने में पैसा आया और इसी धन से जन कल्याण की नई योजनाओं की शुरूआत की गई। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इंदिरा गांधी प्यारी बहना सम्मान निधि की शुरुआत की है, जिसके तहत 18 साल से अधिक आयु की महिलाओं को 1500 रुपया प्रति महीना पेंशन दी जा रही है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के अधिकार को रुकवाने के लिए भाजपा नेता चुनाव आयोग के पास गए, जबकि यह योजना एक मार्च 2024 से पूरे प्रदेश में लागू हो चुकी है और इसके लिए 800 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को पेंशन मिलना भाजपा का हज़म नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने इस योजना के फ़ॉर्म भरने को इजाज़त दे दी है और एक जून को महिलाओं को तीन हज़ार रुपये की धनराशि उनके खाते में ट्रांसफ़र की जाएगी।
श्री सुक्खू ने कहा कि भाजपा के समय भर्ती परीक्षाओं के पेपरों की नीलामी होती थी, जिसे रोकने के लिए राज्य सरकार ने हिमाचल प्रदेश अधीनस्थ कर्मचारी चयन आयोग को भंग किया और इसके स्थान पर राज्य चयन आयोग की स्थापना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह एक आम परिवार से निकलकर राजनीति में आए हैं और सरकारी स्कूल में पड़े हैं। इसीलिए मुख्यमंत्री बनने के बाद राज्य सरकार ने जन कल्याण के लिए अनेकों योजनाएं शुरू की। अनाथ बच्चों के लिए मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना शुरू की गई तथा विधवाओं के बच्चों की पढ़ाई का ख़र्च भी राज्य सरकार ही उठाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने राजस्व लोक अदालत का आयोजन किया जिसके तहत एक लाख से अधिक इंतकाल तथा 7 हज़ार से अधिक तकसीम के मामले निपटाए गए जो कि वर्तमान राज्य सरकार की दृढ़ इच्छा शक्ति का प्रतीक है।
उन्होंने कहा कि जिसकून-जाखा सड़क के लिए निर्माण के लिए राज्य सरकार ने तीन करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं और इसका निर्माण कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष रहते हुए भी डोडरा क्वार का दौरा कर चुके हैं और अब मुख्यमंत्री बनने के बाद भी वह इस क्षेत्र में आए हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही वह एक बार फिर डोडरा-क्वार के दौरे पर आएंगे। ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि राज्य सरकार ने सेब ख़रीद के समर्थन मूल्य में ऐतिहासिक डेढ़ रुपए की बढ़ोतरी की है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष प्रदेश में आई ऐतिहासिक आपदा के समय सेब का सीजन चल रहा था, लेकिन राज्य सरकार ने युद्ध स्तर पर कार्य किया और सभी सड़कों को समय रहते खोला ताकि किसानों के सेब का फ़सल सही समय पर मंडियों तक पहुँच जाए। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष सेब किलो के हिसाब से बिका तथा अगले वर्ष से राज्य सरकार यूनिवर्सल कार्टन लागू करने जा रही है जिससे सेब बाग़बानों की आर्थिकी और सुदृढ़ होगी।
शिक्षा मंत्री रोहित ठाकुर ने कहा कि भाजपा सांसद सुरेश कश्यप आपदा के समय गायब रहे तथा सांसद ने ठियोग, रोहड़ू, जुब्बल-कोटखाई क्षेत्रों के विकास के लिए अपनी निधि से एक रुपया भी नहीं दिया। उन्होंने कहा कि मौजूदा सांसद अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में मात्र एक बार डोडरा क्वार आए। उन्होंने कहा कि पिछली भाजपा सरकार ने सेब के कीटनाशकों व उर्वरकों पर सब्सिडी को ख़त्म कर दिया था, जिसे वर्तमान राज्य सरकार ने फिर से शुरू किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने बाग़बानों से सेब पर आयात शुल्क तीन गुना बढ़ाने की वादा किया था लेकिन इसके विपरीत केंद्र सरकार ने इसे घटाकर 35 प्रतिशत कर दिया है, जिसके कारण कोल्ड स्टोर का सेब भी नहीं बिक रहा है और सेब बागवानों को नुक़सान उठाना पड़ रहा है। रोहित ठाकुर ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार में जिला शिमला से सिर्फ़ एक मंत्री था तथा विधानसभा चुनाव में उनका टिकट भी काट दिया गया। उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा से ही शिमला जिला के साथ भेदभाव करती आई है।
वहीं कांग्रेस पार्टी के लोकसभा प्रत्याशी एवं कसौली विधानसभा सीट से विधायक विनोद सुल्तानपुरी ने कहा कि भाजपा ने राज्य सरकार को अस्थिर करने की साज़िश की और हिमाचल प्रदेश की अस्मिता पर प्रहार किया। उन्होंने कहा कि मुझे और विक्रमादित्य सिंह को लोक सभा चुनाव के मैदान में उतारा गया है और मुख्यमंत्री फ़्रंट फुट पर खेल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी प्रदेश के देवी देवताओं और जनता के आशीर्वाद से सभी चारों सीटें जीतेगी। उन्होंने कहा कि उनके पिता केडी सुल्तानपुरी छह बार सांसद रहे और जिस सच्चाई के साथ उनके पिता ने कार्य किया है उसी निष्ठा के साथ वह भी काम करेंगे और हमेशा लोगों के दुख-दर्द में साथ खड़े रहेंगे। उन्होंने कहा कि मौजूदा सांसद ने पिछले पाँच वर्ष में मात्र एक सवाल संसद में पूछा है।
मुख्य संसदीय सचिव मोहन लाल ब्राक्टा ने कहा कि डोगरा क्वार और रोहड़ू का विकास कांग्रेस पार्टी की देन है तथा इसमें भाजपा का कोई भी योगदान नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने वर्तमान राज्य सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की, लेकिन जनता इसका सबक भारतीय जनता पार्टी को आने वाले लोकसभा चुनाव में सिखाएंगे और केंद्र में भी कांग्रेस की सरकार बनेगी।

Leave a Reply