गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

मोदी सरकार में देश को तुष्टिकरण की राजनीति से मिली मुक्ति

सहारनपुर : लोकसभा चुनाव में मतदाताओं से अपने मत का सही इस्तेमाल करने की अपील करते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के कार्यकाल में देश को तुष्टिकरण की राजनीति से मुक्ति मिली है।
योगी ने गुरुवार को यहां प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को संबोधित करते हुये कहा कि यदि मतदाता अपने वोट का इस्तेमाल विवेकपूर्ण ढंग से करते हैं तो समृद्धि, शांति, वैभव, समाज उत्थान, धर्म उत्थान होता है और यदि गलत दिशा में मतदान होता है तो अराजकता, रंगदारी, पलायन, धर्मांतरण इन सबका बोलबाला होता है। जातिवादी ताकतें गलत दिशा में सत्ता का इस्तेमाल करती हैं और परिवारवाद को बढ़ाती हैं। नरेंद्र मोदी ने परिवार से पहले देश को माना है और तुष्टिकरण की सियासत से देश को जो मुक्ति मिली है उससे देश के करोड़ों गरीबों को उनके कल्याणोत्थान के लिए सैकड़ों-हजारों योजनाएं बनी हैं।
उन्होने कहा कि केंद्र में तीसरी बार नरेन्द्र मोदी की सरकार बनने पर भारत दुनिया की तीसरी आर्थिक महाशक्ति बन जाएगा जो अभी पांचवें स्थान पर है। उन्होंने सहारनपुर में भाजपा उम्मीदवार राघव लखनपाल को जिताने की अपील की। कैराना में उन्होंने प्रदीप चौधरी को जिताने की अपील की।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शाम करीब चार बजे हेलीकाप्टर से सहारनपुर पहुंचे। जहां उनको स्थानीय मंत्रियों, विधायकों, पूर्व भाजपाध्यक्ष अमित गगनेजा, बिजेंद्र चौधरी, मेयर डा. अजय सिंह, पूर्व मेयर संजीव वालिया, नवाब सिंह नागर, पुनीत त्यागी, मानवीर पुंडीर आदि ने स्वागत किया।
योगी शाम चार बजे सेठ गंगा प्रसाद महेश्वरी सभागार पहुंचे। मुख्यमंत्री ने चार बजकर बीस मिनट से चार बजकर चालीस मिनट तक प्रबुद्ध मतदाताओं को संबोधित किया। क्षेत्रीय अध्यक्ष सत्येंद्र शिशोदिया, पूर्व विधायक जगपाल, नरेश सैनी, संजय गर्ग, नगर विधायक राजीव गुंबर ने भी अपने-अपने विचार रखे। मुख्यमंत्री ने सहारनपुर के मतदाताओं से अपील की कि पिछले चुनाव में हुई राघव लखनपाल की हार का इस बार बदला लें और देश से जो 400 सांसद एनडीए के जीतेंगे उनमें सहारनपुर से राघव लखनपाल को भी शामिल करने का काम करेंगे।
मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन से पूर्व सहारनपुर की धरती के लिए मां शाकुम्बरी देवी और बाला सुंदरी देवी का नमन किया। उन्होंने कहा कि उन्होंने सहारनपुर में मां शाकुम्बरी विश्वविद्यालय का निर्माण करवाया है और देवबंद में एटीएस सेंटर की स्थापना करवाई। उन्होंने कहा कि वह प्रयास करेंगे कि रेपिड ट्रेन का विस्तार देवबंद-सहारनपुर तक भी हो जाए। सभागार की क्षमता से ज्यादा लोगों के पहुंच जाने से अनेक प्रबुद्ध लोगों को सभागार में प्रवेश रहने से वंचित रहना पड़ा।

Leave a Reply