गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

अक्टूबर तक कुल व्यय 23.94 लाख करोड़ और राजस्व प्राप्ति 15.90 लाख करोड़

नई दिल्ली : सरकार को अक्टूबर 2023 तक कुल राजस्व प्राप्तियां 15,90,712 करोड़ रुपये रही है जो चालू वित्त वर्ष के बजट अनुमान का 58.6 प्रतिशत है और इस दौरान कुल व्यय 23,94,412 करोड़ रुपये रहा है जो बजट अनुमान का 53 प्रतिशत है। वित्त मंत्रालय ने आज यहां बताया कि इसमें 13,01,957 करोड़ रुपये कर राजस्व (केंद्र को शुद्ध) और 2,65,765 करोड़ रुपये का गैर-कर राजस्व शामिल है। 22,990 करोड़ रुपये गैर-ऋण पूंजी प्राप्तियां है। गैर-ऋण पूंजीगत प्राप्तियों में ऋण की वसूली 14,990 करोड़ रुपये और विविध पूंजी प्राप्तियां 8,000 करोड़ रुपये शामिल हैं।
सरकार ने इस अवधि तक करों के हिस्से के हस्तांतरण के रूप में राज्य सरकारों को 5,28,405 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए हैं, जो पिछले वर्ष की तुलना में 93,966 करोड़ रुपये अधिक है। सरकार द्वारा किया गया कुल व्यय 23,94,412 करोड़ रुपये रहा है जो चालू वित्त वर्ष के बजट अनुमान का 53 प्रतिशत है। इसमें से 18,47,488 करोड़ रुपये राजस्व खाते से और 5,46,924 करोड़ रुपये पूंजी खाते से व्यय हुआ है। कुल राजस्व व्यय में से, 5,45,086 करोड़ ब्याज भुगतान में गया है और 2,31,694 करोड़ रुपये सब्सिडी पर व्यय हुआ है। 

Leave a Reply