गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

यूसीसी कानून किसी धर्म और जाति के खिलाफ नहीं

चंपावत/टनकपुर/नैनीताल : पुष्कर सिंह धामी ने दोहराया कि समान नागरिक संहिता (यूसीसी) किसी भी धर्म और जाति के खिलाफ नहीं है बल्कि यह असमानता और अन्याय जैसी बुराइयों के खिलाफ है। धामी ने यह बात रविवार को अपनी चंपावत विधानसभा के लोहाघाट में मातृशक्ति को समर्पित संगज्यू कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने कहा कि यूसीसी किसी के खिलाफ नहीं है। यह कानून मातृशक्ति के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।
इस दौरान मुख्यमंत्री ने 162 करोड़ की विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी किया। इससे पहले मुख्यमंत्री ने लोहाघाट से रामलीला मैदान तक निकाले गये रोड़ शो में लोगों का अभिवादन किया। श्री धामी के रोड शो में भारी जन सैलाब उमड़ा। उन्होंने मातृशक्ति की सराहना करते हुए कहा कि मातृशक्ति प्रदेश के विकास की रीढ़ हैं। इस दौरान कन्या पूजन किया और पांच महिलाओं जिला पंचायत अध्यक्ष ज्योति राय, ब्लाक प्रमुख रेखा देवी, नेहा ढेक, विनीता फर्त्याल एवं सुमनलता को सम्मानित भी किया।
मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के बीच में प्रधानमंत्री जनमन योजना के अंतर्गत ग्राम खिरद्वारी केी एक मात्र वनराजि जनजाति के 14 परिवारों को भूमि पट्टे भी प्रदान किये। पूरे कार्यक्रम में पहाड़ी संस्कृति के साथ साथ मातृशक्ति की झलक देखी गयी। महिला पुलिस कर्मियों की ओर से ही मुख्यमंत्री को गार्ड आफ आनर भी दिया गया।
श्री धामी ने महिला समूहों की ओर से लगाये गये स्टालों का निरीक्षण भी किया और पहाड़ी उत्पादों के बारे में जानकारी ली। वह सरस्वती शिशु मंदिर की महिलाओं की ओर से आयोजित झोड़ा चांचरी एवं होली गायन में कार्यक्रम में शामिल हुए पुरानी यादों को ताजा किया। मातृशक्ति भी सरकार की ओर से आयोजित सम्मान कार्यक्रम से उत्साहित नजर आयीं।
इसके पश्चात् मुख्यमंत्री ने गांव चलो अभियान के तहत टनकपुर के फागपुर में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में प्रतिभाग किया। यहां उन्होंने कई घोषणायें की जिनमें टनकपुर स्टेडियम का उच्चीकरण, टनकपुर बनबसा क्षेत्र में अर्बन फारेस्ट योजना के तहत वृहद पार्कों का निर्माण, ग्राम फागपुर में आंतरिक मार्गों का निर्माण, राजकीय प्राइमरी पाठशाला और जूनियर हाईस्कूल का आधुनिकीरण एवं बनबसा-देवीपुरा सड़क का सुदृढ़ीकरण शामिल है।

Leave a Reply