गौरवशाली भारत

देश की उम्मीद ‎‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎ ‎‎

एम्स की बेहतरी के लिए नहीं रखेंगे कोई कमी

शिमला : जगत प्रकाश नड्डा ने सोमवार को अपने ड्रीम प्रोजेक्ट एम्स कोठीपुरा का औचक निरीक्षण किया। व्यवस्थाओं का जायजा लेने के साथ ही उन्होंने मरीजों के तीमारदारों, एमबीबीएस और नर्सिंग के विद्यार्थियों से बात की। नड्डा अपने गृह जिला बिलासपुर में तीन दिन के दौरे पर पहुंचे हैं। नड्डा ने डॉक्टरों और स्टूडेंट्स को जरूरी सुविधाएं और बेहतर ढंग से उपलब्ध करवाने के लिए हर तरह की फीडबैक ली। बाद में एम्स प्रबंधन के साथ अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि इस स्वास्थ्य संस्थान में किसी तरह की कोई कमी नहीं रखी गई है। यदि कोई काम केंद्र सरकार के करने का है, तो उसे भी तुरंत प्रभाव से किया जाएगा। मरीज जिस भरोसे के साथ इस स्वास्थ्य संस्थान में उपचार के लिए आते हैं, उस पर खरा उतरने में कोई कोताही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने एम्स परिसर में मौजूद मरीजों के तीमारदारों से बात करके उन्हें पेश आ रही दिक्कतों के बारे में जानने के साथ ही उनके सुझाव भी लिए।

उन्होंने हर विभाग के एचओडी, डॉक्टर तथा पैरामेडिकल व नर्सिंग स्टाफ से स्वास्थ्य संस्थान में उपलब्ध उपकरणों की जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि एम्स में हर जरूरी उपकरण होना चाहिए, ताकि मरीजों का उपचार सही ढंग से उपचार हो। यदि कोई उपकरण बाकी रह गए हैं तो उनकी व्यवस्था जल्द की जाए।
नड्डा ने एम्स के डायरेक्टर तथा संबंधित विभागों के एचओडी से भी बात की। कहा कि आने वाले समय में यही स्टूडेंट मरीजों का उपचार करेंगे। लिहाजा उनकी ट्रेनिंग में कोई कमी नहीं होनी चाहिए। इस मौके पर नयनादेवी के विधायक रणधीर शर्मा, झंडूता के विधायक जीतराम कटवाल तथा सदर के विधायक त्रिलोक जमवाल के साथ ही एम्स के कार्यकारी निदेशक वीर सिंह नेगी, मेडिकल सुपरिंटेंडेंट, डीन तथा अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

Leave a Reply